Dry fruits side effects : अब से लीजिए जान फिर तय करिए कितना खाना है सेहतमंद काजू की तासीर ठंडी है या गरम?

Dry fruits side effects : काजू के पोषक तत्व सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं. लेकिन इसका सेवन थोड़ा सावधानी से करना चाहिए नहीं तो नुकसान भी उठाने पड़ सकते हैं.

kaju ke taseer thandi ya garam : कुछ सूखे मेवे ऐसे होते हैं जो हर किसी को बहुत पसंद होते हैं जिसमें से एक है काजू (Cashew). यह खाने में मुलायम और स्वादिष्ट होता है जो बच्चे, बूढ़े और जवान दोनों को पसंद आता है. इसका इस्तेमाल लोग हलवे, स्मूदी या शाही सब्जियों में बहुत करते हैं. कुछ लोग इसे भूनकर नाश्ते या स्नैक्स में भी खाना पसंद करते हैं. इसके पोषक तत्व सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं. इसमें प्रोटीन, फाइबर, मिनरल, आयरन मैग्नीशियम, फास्फोरस, सेलेनियम, कैल्शियम और एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में पाए जाता है. लेकिन इसका सेवन थोड़ा सावधानी से करना चाहिए नहीं तो इसके नुकसान भी उठाने पड़ सकते हैं. असल में काजू की तासीर गरम होती है. इसलिए इसे कितना और कैसे खाना चाहिए इसके बारे में सही जानकारी आपको होनी चाहिए.

काजू कितना खाना चाहिए? how much cashew should be eaten in a day
जैसा की हमने बताया कि इसकी तासीर गरम होती है इसलिए गर्मी के मौसम में इसको भिगोकर ही खाएं ताकि इसका टेंपरेचर आपके शरीर के साथ तालमेल बैठा पाए. वहीं, इसको एक दिन में 4 से 5 ही खाना चाहिए.

काजू के नुकसान? Kaju side effects
ज्यादा काजू खा लेने से आपका पेट खराब हो सकता है. इसके अलावा हाई बीपी और किडनी से जुड़ी समस्या हो सकती है. वहीं, इससे मोटापा भी बढ़ सकता है.

काजू के फायदे | Kaju benefits
काजू (Cashew) में मौजूद पोषक तत्व शरीर को ऊर्जावान बनाने का काम करते हैं. वहीं, काजू में कैल्शियम और मैग्नीशियम पाया जाता है, जो हड्डियों को मजबूती बनाता है. इसके अलावा काजू खाने से शरीर में खून की कमी की शिकायत दूर होती है. क्योंकि इसमें आयरन प्रचुर मात्रा में होता है.