If you are troubled by cold ; सर्दी-जुकाम से हैं परेशान तो अपनाऐ ये नुस्ख़े.

ठंड के मौसम में सर्दी-जुकाम की समस्या बहुत कॉमन है. अक्सर लोग इस पर ज्यादा ध्यान भी नहीं देते हैं. लेकिन कई बार जुकाम के दौरान नाक बंद हो जाती है. ऐसे में बलगम सीने में जकड़ने लगता है और नाक से सांस लेना मुश्किल लगने लगता है. सबसे ज्यादा समस्या सोते समय होती है.

सोते समय सांस ठीक से न आने से लगातार बेचैनी होती है, साथ ही सीने में कंजेशन की वजह से मांसपेशियों में काफी दर्द महसूस होता है. नींद न आने से इरिटेशन बढ़ने लगती है. अगर आपके साथ भी ऐसी समस्या है तो यहां जानिए कुछ ऐसे तरीके जिनको आजमाने से सर्दी-जुकाम के दौरान आपको सोने में परेशानी नहीं होगी और आप काफी बेहतर फील करेंगे.

सोने से पहले लें स्टीम
सर्दी-जुकाम के दौरान स्टीम से काफी फायदा मिलता है. वैसे तो आप दिन में कभी भी स्टीम ले सकते हैं, लेकिन सोते समय आपको खासतौर पर भाप जरूर लेनी चाहिए. स्टीम से आपकी बंद नाक खुल जाती है, जिससे काफी आराम मिलता है. स्टीम के लिए आप वैपोराइजर का इस्तेमाल भी कर सकते हैं, या किसी बर्तन में पानी उबालकर सिर को तौलिया से कवर करके भी भाप ले सकते हैं. भाप लेते समय पानी में अजवाइन या नी​लगिरि का तेल जरूर डालें.

गरारे करें
अगर सर्दी की वजह से गले में खराश हो गई है, तो सोने से पहले गुनगुने पानी से गरारे जरूर करें. गरारे करते समय पानी में थोड़ा सेंधा नमक मिक्स कर लें. इससे गले में दर्द में राहत मिलेगी और नींद अच्छी आएगी.

सरसों का तेल
अगर संभव हो तो सरसों के तेल को हल्का सा गुनगुना करें, इतना जिसे आप सह सकें. सोने से पहले तेल की दो दो बूंद नाक की नसिकाओं में डालें. इससे आपकी नाक खुल जाती है, साथ ही जुकाम में भी काफी आराम मिलता है.

ह्यूमिडिफायर का इस्तेमाल
सोते समय ह्यूमिडिफायर का इस्तेमाल करने से भी आपको आराम मिल सकता है. इससे आपके कमरे में नमी बनी रहती है, जिससे सांस लेना थोड़ा आसान हो जाता है. ह्यूमिडिफायर न हो तो आप इसके लिए वैपोराइजर का इस्तेमाल भी कर सकते हैं. ह्यूमिडिफायर में हमेशा डिस्टिल्ड पानी का ही इस्तेमाल करें.