PAIN KILLER : तुरंत खाते हैं पेनकिलर सिरदर्द में तो हो जाएं अलर्ट जानलेवा है ये तरीका!

मौजूदा दौर की भाग दौड़, बिजी लाइफस्टाइल, अनहेल्दी फूड की वजह से अक्सर लोग टेंशन और डिप्रेशन का शिकार हो जाते हैं. इससे छुटकारा पाने के लिए वो पेन किलर का इस्तेमाल करते हैं. भले उन्हें इस तरह की दवाइयां खाने का तुरंत फायदा मिल जाता है, लेकिन लॉन्ग टर्म के लिए ये बेहद खतरनाक है.

जानलेवा है पेनकिलर की आदत
नॉमर्ल दवाई डाइक्लोफेनेक (Diclofenac) का इस्तेमाल दिल का दौरा (Heart Attack) जैसी हृदय से जुड़ी जानलेवा बीमारियों के जोखिम को बढ़ा सकता है. एक स्टडी में इस बात को लेकर चेतावनी दी गई है. बीएमजे (BMJ) में छपे इस रिसर्च में डाइक्लोफेनेक के उपयोग की तुलना पैरासिटामोल तथा अन्य पारंपरिक दवा निवारक दवाओं से करने के साथ की गई है.

पेन किलर के पैकेट पर लिखी हो चेतावनी’
डेनमार्क (Denmark) स्थित आरहुस यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल (Aarhus University Hospital) के शोधकर्ताओं ने बताया कि डाइक्लोफेनेक (Diclofenac) सामान्य बिक्री के लिए उपलब्ध नहीं होनी चाहिए और अगर इसकी सेल होती है, तो उसके पैकेट के आगे के हिस्से पर इसके संभावित जोखिम की विस्तार से जानकारी दी जानी चाहिए.

क्या है डाइक्लोफेनेक दवाई?
डाइक्लोफेनेक (Diclofenac) एक पारंपरिक नॉन-स्टेरॉयडल एंटी-इंफ्लेमेटरी ड्रग (Nonsteroidal Anti-Inflammatory Drug) होता है, जिसका इस्तेमाल दुनियाभर में बड़े पैमाने पर दर्द और सूजन के निवारण के लिए किया जाता है. इस रिसर्च में डाइक्लोफेनेक का इस्तेमाल शुरू करने वाले लोगों में हृदय रोग संबंधी जोखिम की तुलना अन्य एनएसएआईडी (NSAID) दवाइयों और पैरासिटामोल के इस्तेमाल करने वालों से की गई है.