these 5 foods must be included in the diet : कई बीमारियों से होगा बचाव 40 की उम्र के बाद डाइट में जरूर शामिल करें ये 5 फूड्स.

जैसे-जैसे हमारी उम्र हो रही होती है, हमारे शरीर की स्वास्थ्य समस्याएं बढ़ती जाती है। पुरानी बीमारियों से लड़ने, आपके पाचन तंत्र सही रखना और पेट की चर्बी को कम करना मुश्किल हो जाता है लेकिन ऐसा नहीं है कि इन परेशानियों से पार पाना बहुत मुश्किल होता है बल्कि सेहत से भरपूर भोजन, पानी और थोड़ी एक्सरसाइज की मदद से आप बिल्कुल स्वस्थ रह सकते हैं। दरअसल आपके संपूर्ण शरीर को स्वस्थ और यहां तक की बीमारियों को दूर रखने के लिए आप अपनी डाइट में प्रोटीन, पौटैशियम, एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन और खनिज को भरपूर मात्रा में शामिल कर सकते हैं। इन पोषक तत्वों की मदद से, जो बीमारियों आपको पहले से है, उनके लक्षण भी कम हो सकते हैं। आइए कुछ ऐसे ही फूड्स और कैसे ये आपको गंभीर बीमारियों से बचा, इनके बारे में विस्तार से जानते हैं।

40 से अधिक उम्र के लोग इन फूड्स का करें सेवन

1. दाल और नट्स :

कई बार हम ड्राई फ्रूट्स और नट्स में अंतर करने में मात खा जाते हैं। दरअसल नट्स में बादाम, पिस्ता और अखरोट आदि को शामिल किया जाता है जबिक ड्राई फ्रूट्स में सुखे अंजीर, खुबानी और खजूर आदि को शामिल किया जाता है। ड्राई फ्रूट्स का ग्लाइसेमिक इंडेक्स अधिक होता है इसलिए अगर आपको डायबिटीज या ऐसी कोई समस्या है, तो आपको ड्राई फ्रूट्स का सेवन बिना डॉक्टर की सलाह के नहीं करना चाहिए। दाल और नट्स में प्रोटीन, कार्ब्स, फैट, ओमेगा-3 फैटी एसिड, विटामिन्स और मिनरल्स पाए जाते हैं, जो हृदय संबंधी समस्याओं और कोलेस्ट्रोल के स्तर को कम करने में मदद कर सकता है। दाल का सेवन आप दिन में दो बार जरूर करें।

2. हरी साग-सब्जियां :

पत्तेदार साग-सब्जियां या हरी सब्जियां सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होती है। आपने अपने घर के बुजुर्गों को भी ये कहते हुए सुना होगा कि हरी साग-सब्जियां खाने से स्वास्थ्य अच्छा रहता है। ऐसे में जब आप खुद 40 की उम्र में हो, तो अपनी डाइट में पालक, ब्रोकली, गोभी, कद्दू और बैंगन आदि को अपनी डाइट में जरूर शामिल करें। हरी सब्जियों में आयरन, कैल्शियम, विटामिन ए(कैरोटिन), विटामिन सी और बी पाए जाते हैं, जिससे आपकी हड्डियां मजबूत रहती है। साथ ही मोटापाकम करने, एनीमिया और कई रोगों से बचाव कर सकता है। इससे आपका इम्यून सिस्टम भी मजबूत रहता है। हरी पत्तेदार सब्जियों को आप सलाद या पकाकर भी खा सकते हैं।

3. बीज :

अधिक उम्र होने पर आप कई तरह के बीजों को भी आप अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। इससे शरीर को स्वस्थ और रोगों से मुक्त बनाने में मदद मिलती है। इसके लिए आप अलसी, सूर्यमुखी, कद्दू और चिया सीड्स को अपने आहार में शामिल कर सकते हैं। इनमें फैटी एसिड अल्फा-लिनोलेनिक, लिनोलेइक एसिड, आयरन, विटामिन्स, नियासिन और थियामिन जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। इससे पेट की समस्याओं, ऑस्टियोपोरोसिस, उच्च कोलेस्ट्रॉल और मस्तिष्क संबंधी समस्याओं को दूर करने में मदद मिलती है।

4. मसाले :

भारत को मसालों का राजा कहा जाता है। यहां कई तरह के मसाले पाए जाते हैं, जिनमें औषधियां गुण होते हैं। इन मसालों के सेवन से आपको शारीरिक और मानिसक परेशानियों से लड़ने में मदद मिलती है। तुलसी, जीरा, अजवाइन, मेथी और लहसुन के इस्तेमाल से मामूली बुखार, सर्दी-जुकाम और गले के दर्द में आराम मिलता है। इसके एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटीबैक्टीरियल गुण संक्रमण को दूर रखने में मदद मिलती है।

5. पानी :

कई बार हम खानपान तो ध्यान देते हैं लेकिन शरीर में मौजूद फ्लूइड के स्तर को बनाए रखने में मदद मिलती है। पानी भरपूर मात्रा में पीने से डिहाइड्रेशन की समस्या नहीं होती है और शरीर की कोशिकाओं को अच्छे से विकास होता है। इससे शरीर को डिटॉक्स करने और पाचन तंत्र को ठीक करने में मदद मिलती है। आप सुबह उठकर खाली पेट जरूर पानी पिएं।