High Cholesterol Risk : आपका शरीर देगा इस तरह के संदेश High Cholesterol के इशारे को कैसे पहचानें?

High Cholesterol Risk: कोलेस्ट्रॉल हमारे शरीर के लिए जरूरी हैं, लेकिन इसका जरूरत से ज्यादा बढ़ना खतरनाक है, आइए जानते हैं कि इस रिस्क का अंदाजा आखिर कैसे लगाया जाए.

High Cholesterol Warning Sign: कोलेस्ट्रॉल का नाम सुनते ही हमें लगता है कि ये एक बूरी चीज है, लेकिन आपको बता दें कि ये गुड और बैड दोनों ही तरह का होता है. बॉडी में हेल्दी सेल्स को बनाने के लिए खून में गुड कोलेस्ट्रॉल की जरूररत होती है, लेकिन जब बैड कोलेस्ट्रॉल यानी एलडीएल की मात्रा बढ़ती है तो नसों में फैट जमा होने लगता है, जिससे ब्लड फ्लो में रुकावट पैदा होने लगती है. कई बार हाई कोलेस्ट्रॉल की कारण ब्लड क्लॉटिंग तक गो जाते हैं. इन खतरों से बचने के लिए आपको हेल्दी फूड और लाइफस्टाइल अपनानी होगी. अगर शरीर में कुछ खास इशारे होने लगें तो समझ जाएं कि अब अलर्ट होने की जरूरत हो गई है.

हाई कोलेस्ट्रॉल बढ़नी की वॉर्निंग साइन

1. हाई ब्लड प्रेशर
शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल बढ़ने का सीधा रिश्ता हाई ब्लड प्रेशर (High Blood Pressure) से है. खून में जितना ज्यादा फैट बढ़ेगा, रक्चाप में उतना ही ज्यादा इजाफा होगा. इसकी वजह से है कि जब कोलेस्ट्रॉल के कारण ब्लड सप्लाई में रुकावट पैदा होती है तो रक्त को हार्ट तक पंप करने के लिए आर्टरीज को ज्यादा जोर लगाना पड़ता है.

2. पैरों का सुन्न पड़ना
जब आपके पैर सुन्न होने लगें तो इसे बिलकुल भी हल्के में न लें, ये हाई कोलेस्ट्रॉल (High Cholesterol) का इशारा हो सकता है. इसका मतलब ये है कि आर्टरीज के जरिए ब्लड फ्लो और ऑक्सीजन सप्लाई में रुकावट पैदा हो रही है. इसके कारण पैरों में दर्द होना और उनका सुन्न पड़ जाना, झनझनाहट होना लाजमी है.

3. नाखून का रंग बदलना
जब शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ती है, तब आपके धमनियों में फैट जमा होने लगता है जिससे नसों में रक्त प्रवाह अवरुद्ध होता है. हाथों और पैरों की उंगलियों तक ब्लड सप्लाई ठीक से न होने के कारण नाखूनों का रंग हल्का गुलाबी से पीला होने लगता है. कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के इस इशारे को बिलकुल भी नजरअंदाज न करें.