High Cholesterol Signs : जानिए हाई कोलेस्ट्रॉल के लक्षणों के बारे में शरीर के इन हिस्सों में होने लगा है दर्द तो समझ जाइए बढ़ रहा है कॉलेस्ट्रोल.

High Cholesterol Signs: कॉलेस्ट्रोल की मात्रा कई कारणों से शरीर में बढ़ सकती है और इससे कई तरह की स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतें भी होने लगती हैं. ऐसे में कॉलेस्ट्रोल का समय रहते पता लगाना जरूरी है.

Bad Cholesterol: कॉलेस्ट्रोल एक वैक्स जैसा पदार्थ है जो खून में पाया जाता है और धमनियों में जमा होने लगता है. कॉलेस्ट्रोल के जरूरत से ज्यादा बढ़ जाने के कारण हार्ट अटैक (Heart Attack) का खतरा भी सिर पर मंडराने लगता है. हाई कॉलेस्ट्रोल होने पर धमनियों का सुचारू रूप से रक्त प्रवाह अवरोधित होने लगता है जिससे सेहत से जुड़ी कई तरह की दिक्कतें होने लगती हैं. यहां कुछ ऐसे ही लक्षणों के बारे में बताया जा रहा है जो हाई कॉलेस्ट्रोल (High Cholesterol) के कारण शरीर पर नजर आने लगते हैं और जिनके दिखने पर समय रहते इससे छुटकारा पाने की कोशिश शुरू कर देनी चाहिए. आमतौर पर सही खानपान और एक्सरसाइज की मदद से कॉलेस्ट्रोल को कम किया जा सकता है.

हाई कॉलेस्ट्रोल के लक्षण | High Cholesterol Symptoms

सीने में दर्द

दिल तक खून पहुंचाने वाली नसों में कॉलेस्ट्रोल जम गया है तो सीने में दर्द (Chest Pain) की दिक्कत हो सकती है. इससे कभी-कभार आपको छाती पर हाथ लगाने पर दर्द महसूस हो सकता है या फिर तीव्र दर्द भी वक्त-बेवक्त उठता है.

पैरों में दर्द
हाई कॉलेस्ट्रोल के कारण पैरों की धमनियों तक रक्त प्रवाह बाधित हो सकता है. इससे खून सही तरह से पैरों तक नहीं पहुंचता जिस कारण चलने-फिरने में दिक्कत होने लगती है, पैरों में दर्द होता है और पैरों की त्वचा की रंगत बदली हुई दिख सकती है. इसके अलावा पैर जरूरत से ज्यादा ठंडे पड़ सकते हैं.

दिल में दर्द

सीने में किसी भी हिस्से में दर्द के अलावा सीधा दिल में दर्द होना भी बढ़े हुए कॉलेस्ट्रोल की निशानी है. कॉलेस्ट्रोल की अत्यधिक मात्रा हार्ट अटैक और स्ट्रोक का कारण भी बन सकती है.

किन लोगों को रहता है हाई कॉलेस्ट्रोल का खतरा

जिन लोगों की डाइट में पोषक तत्वों की कमी और जंक फूड की बहुलता होती है उनमें अक्सर हाई कॉलेस्ट्रोल की दिक्कत देखी जाती है.

डिब्बाबंद चीजों का जरूरत से ज्यादा सेवन भी गंदे कॉलेस्ट्रोल के जमने की वजह बन सकता है.

किसी तरह की एक्सरसाइज (Exercise) ना करना और मोटापा भी कॉलेस्ट्रोल का रिस्क फैक्टर है.

धुम्रपान और शराब का सेवन करने वाले लोगों को हाई कॉलेस्ट्रोल की दिक्कत हो सकती है.