How To Protect Yourself From Migraine : माइग्रेन की है समस्या आम नहीं होता आधे सिर में होने वाला दर्द ऐसे करें बचाव.

How To Protect Yourself From Migraine: बेकार खान-पान और बिजी लाइफस्टाइल के कारण कई गंभीर बीमारियां परेशान करती है। इन बीमारियों के कारण हमें कई तरह की तकलीफों का सामना करना पड़ता है, जिसके कारण हर वक्त सिर में दर्द रहता है।

चिंता, तनाव और किसी बारे में ज्यादा सोचने के कारण सिर में दर्द होता है, लेकिन हमेशा ये दर्द नॉर्मल नहीं होता और इसको हमेशा अनदेखा भी नहीं करना चाहिए।

दरअसल कभी-कभी सिर में तेज दर्द होता है, जो माइग्रेन की समस्या होती है। इसके होने से लगता है कि अब तो दिमाग फट ही जाएगा और हर रोज करने वाली नॉर्मल सी चीजें भी इंसान नहीं कर पाता है।

लाइफस्टाइल में करें बदलाव
अधिक बढ़ने की वजह से रोगी को उल्टी और चक्कर भी आ सकता है। इसलिए आपको इस ओर ध्यान देना चाहिए कि कहीं ये बीमारी आपको न परेशान करें और इसके लिए अपको पहले ही इससे बचने के तरीकों को अपने लाइफस्टाइल में अपनाना चाहिए।

इस वजह से होती है माइग्रेन की समस्या
आज का दौर इतना खतरनाक है कि कब, किसको कौन-सी बीमारी हो जाए नहीं पता और इसके लिए इंसान खुद ही जिम्मेदार होता है। खराब जीवनशैली के कारण लोगों को माइग्रेन या अधकपारी की बीमारी हो जाती है।

माइग्रेन में इंसान को बार-बार गंभीर सिरदर्द होता है और यह आधे सिर में होता है, जो बार-बार आता-जाता रहता है। कुछ लोगों को यह पूरे सिर में भी होता है। पूरी दुनिया में यह सभी को होता है, कुछ ही ऐसे लोग होगे, जिन्हें यह परेशान नहीं होती हो। बार-बार अगर यह दर्द होता है, तो डॉक्टर को जरुर दिखा लेना चाहिए।

ये हैं माइग्रेन के लक्षण

1. उल्टी होना

2. चिड़चिड़ापन, गुस्सा होना

3. गर्दन में अकड़न होना

4. जी मचलाना

5. बोलने में परेशानी होना

6. भूख लगना

7. आवाज़ से परेशान होना

8. भूख लगना

9. बार-बार पेशाब आना

10. लो ब्लड प्रेशर

ऐसे करें माइग्रेन से बचाव
माइग्रेन से बचने के लिए हमेशा अपनी नींद पूरी करें। इसके साथ ही हमेशा दिनचर्या को संतुलित रखें, व्यायाम (एक्सरसाइज) नियमित रूप से करें, टेंशन से नहीं लें, डाइजेशन को दुरुस्त रखें इन सभी चीजों को फॉलों करें, जिससे इस दर्द से राहत मिल सकती है।

माइग्रेन के नुकसान
इंसान के लिए माइग्रेन बहुत खतरनाक साबित हो सकता है। इससे ब्रेन स्ट्रोक हो सकता है, नींद की परेशानी, पेट में दर्द, स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां हो सकती है, इसलिए इसका हमेशा ध्यान रखना चाहिए।