Motherhood : यहां जानिए क्यों है ऐसा नवजात शिशु को 6 महीने तक नहीं पिलाना चाहिए पानी.

Parenthood : आपको बता दें कि शुरुआत के 6 महीने बच्चों को बिल्कुल भी पानी नहीं पिलाना चाहिए. बल्कि उसे दूध के अलावा कुछ भी नहीं पिलाना चाहिए.

Tips of motherhood : पानी ऐसी चीज है जिसके बिना जीवन की कल्पना ही नहीं की जा सकती है. शरीर को सुचारू ढंग से काम करने के लिए पानी की बहुत जरूरत होती है. शरीर को हाइड्रेट रखना बहुत जरूरी होता है सेहत के लिए. ऐसे में जो नई माएं हैं उनके दिमाग में आता है कि वो अपने नवजात को कब से पानी पिलाना शुरू करें. जिससे वो हाइड्रेटेड रहे. लेकिन आपको बता दें कि शुरुआत के 6 महीने बच्चों को बिल्कुल भी पानी नहीं पिलाना चाहिए. बल्कि उसे दूध के अलावा कुछ भी नहीं पिलाना चाहिए.

बच्चे को क्यों 6 महीने तक नहीं पिलाना चाहिए पानी

जन्म के कुछ महीनों तक नवजात शिशुओं का शरीर पानी के लिए तैयार नहीं होता है क्योंकि उनका पेट और किडनी छोटा होता है वो उसको पचा नहीं सकता है. इस दौरान बच्चे का पेट 1 से 2 चम्मच पानी ही पचा सकता है.

आपको बता दें कि पहले के 6 महीने तरल पदार्थों की जरूरतें मां के दूध से बच्चों की पूरी हो जाती हैं. अगर आप जानबूझकर पिलाती हैं तो उसके लिए हानिकारक हो सकती है.

जब बच्चा 6 महीने से अधिक हो जाए तो आधा कप पानी पिलाना शुरू करिए. लेकिन ऐसा करने से पहले आप बालरोग विशेषज्ञ से जरूर बात करें. आपको बता दें कि 6 महीने तक लिक्विड फूड की सारी जरूरतें मां के दूध से पूरा होता है.