Vitamin Deficiency Causes Jaundice : किस विटामिन की कमी से होता है पीलिया जानें इनके स्रोत.

Vitamin Deficiency Causes Jaundice : क्या आपकी आपकी आंखें और त्वचा का रंग पीला पड़ रहा है? अगर हां, तो आपको ऐसे में तुरंत डॉक्टर से संपर्क करने की जरूरत है, क्योंकि यह पीलिया या जॉन्डिस (Jaundice) का संकेत हो सकता है। पीलिया एक गंभीर रोग है, जो लोगों में बहुत आम है। पहले पीलिया की समस्या छोटे बच्चों में देखने को मिलती थी, लेकिन अब वयस्कों में भी पीलिया के मामले काफी तेजी से बढ़ने लगे हैं। इसमें आपकी आंखों का सफेद भाग, झिल्ली, चेहरे और शरीर की त्वचा धीरे-धीरे पीली पड़ने लगती है। आमतौर पर पीलिया हेपेटाइटिस, पित्त की पथरी और ट्यूमर, शरीर में खून की कमी आदि के कारण होता है, जिसे सही उपचार के साथ आसानी से सही किया जा सकता है।

लेकिन क्या आप जानते हैं कि शरीर में पोषक की कमी के कारण भी पीलिया हो सकता है? जी हां, आपने बिल्कुल सही पढ़ा! बहुत से लोग अक्सर पूछते हैं कि पीलिया किस कमी से होता है (piliya kis kami se hota hai)? क्लीनिकल न्यूट्रिशनिस्ट और डायटीशियन गरिमा गोयल की मानें तो कुछ शरीर में पोषक तत्वों की कमी, खासकर विटामिन की कमी भी पीलिया का कारण बन सकती है। जिसके कई अन्य गंभीर दुष्प्रभाव भी देखने को मिल सकते हैं। हालांकि संतुलित और पोषक तत्वों से भरपूर आहार को फॉलो करके आप आसानी पीलिया के जोखिम को कम कर सकते हैं। चलिए तो डायटीशियन गरिमा से जानते हैं पीलिया किस विटामिन की कमी से होता है (piliya kis vitamin ki kami se hota hai), साथ ही ये किन फूड्स में मौजूद होते हैं।
पीलिया किस विटामिन की कमी से होता है- which vitamin deficiency causes jaundice

विटामिन K की कमी (Vitamin K Deficiency)
डायटीशियन गरिमा की मानें तो विटामिन K की कमी पीलिया के अहम जोखिम कारकों में से एक है। अगर शरीर में विटामिन K की कमी हो जाती है, तो यह शरीर में प्रोटीन की कमी का भी कारण बनता है, क्योंकि यह प्रोटीन के संश्लेषण में अहम भूमिका निभाता है। विटामिन K की कमी से ऑब्सट्रक्टिव जॉन्डिस से जुड़ी होती है। यह स्थिति पित्त वाहिनी (बाइल डक्ट) ब्लॉक होने की वजह से पैदा होती है, क्योंकि इसमें बिलीरुबिन को लिवर से बाहर निकलने में रुकावट होती है। विटामिन K के अवशोषण के लिए पित्त बहुत जरूरी होता है। आमतौर यह अवशोषण क्रोनिक डायरिया या कुछ एंटीबायोटिक दवाओं के सेवन से प्रभावित होता है। यह स्थिति बच्चों में पीलिया का एक बड़ा कारण है। विटामिन के की कमी से रक्तस्राव भी अधिक होता है, जिससे खून की कमी होती है।

विटामिन K की कमी से बचने और दूर करने के लिए मौसमी फल और हरी पत्तेदार सब्जियां, पालक, ब्रोकली, शलजम, चुकंदर, हरी बीन्स, दाल और फलियां आदि को डाइट का हिस्सा बनाएं।

विटामिन बी 12 की कमी (Vitamin B12 Deficiency)
डायटीशियन गरिमा के अनुसार जिस तरह आयरन की कमी के कारण एनीमिया की स्थिति से शरीर में पूरी तरह से से परिपक्व, स्वस्थ लाल रक्त कोशिकाओं की कमी हो जाती है, ठीक ऐसी ही स्थिति शरीर में विटामिन बी12 की कमी से संबंधित एनीमिया में भी देखने को मिलती है। विटामिन बी12 की कमी के कारण भी पीलिया हो सकता है और आपकी आंख, त्वचा आदि का रंग पीला हो सकता है।

विटामिन बी12 की कमी से बचने और दूर करने के लिए दूध और दूध से बने उत्पाद जैसे दही, छाछ, पनीर और अंडे, चिकन, मटन, रेड मीट, मछली, सैल्मन आदि को डाइट में शामिल करें।