Garlic Benefits : 11 रोग जाड़े में कच्चा लहसुन खाने से एकसाथ मिट जाते हैं लक्षण दिखने से पहले ही हो जाता है इलाज.

Garlic Benefits: अगर आप जाड़े या ठंड में कच्चा लहसुन खाते हैं, तो अनजाने में कई बीमारियों का एकसाथ इलाज कर देते हैं। कच्चा लहसुन खाने से एंटीऑक्सीडेंट्स, फाइबर, विटामिन भी मिलते हैं। जिससे डायबिटीज-कोलेस्ट्रॉल और हाई बीपी जैसे रोग खत्म हो जाते हैं।

Raw Garlic Benefits: लहसुन एक औषधीय खाद्य पदार्थ है, जो शरीर के कई रोगों का नाश करता है। लेकिन, जब आप जाड़े में इसका कच्चा सेवन करते हैं, तो जाने-अनजाने शरीर के 11 रोगों को दूर कर देते हैं। कच्चा लहसुन खाने के इन फायदों के बारे में देश के जाने-माने आयुर्वेदिक एक्सपर्ट डॉ. अबरार मुल्तानी ने जानकारी दी है।

कच्चा लहसुन खाने का तरीका: ठंड में लहसुन के फायदे पाने के लिए आपको इसे खाली पेट खाना (garlic benefits with empty stomach) चाहिए। डॉ. अबरार मुल्तानी ने बताया कि खाली पेट लहसुन की 2 कली छीलकर चबाएं। इसके साथ 1 गिलास गुनगुना पानी भी पी सकते हैं। आयुर्वेद के मुताबिक, कच्चा लहसुन खाने के 30 मिनट बाद तक आपको किसी चीज का सेवन नहीं करना है।
ठंड में नहीं होता जुकाम – raw garlic benefits

कच्चा लहसुन खाने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है। इसका सबसे बड़ा फायदा जुकाम की बीमारी में मिलता है। जिन लोगों की इम्युनिटी बूस्ट रहती है, उन्हें सर्दी-जुकाम जैसे आम संक्रमण परेशान नहीं कर पाते हैं। एक स्टडी के मुताबिक, लहसुन का सेवन करने से आपके बीमार पड़ने का खतरा 61 प्रतिशत तक कम हो जाता है।

कोलेस्ट्रॉल और हाई ब्लड प्रेशर
नसों में गंदा कोलेस्ट्रॉल जम जाने से रक्तचाप उच्च (high blood pressure) हो जाता है। दोनों ही समस्याएं दिल की बीमारी का खतरा बढ़ा देती हैं। आयुर्वेद कहता है कि हाई कोलेस्ट्रॉल और हाई ब्लड प्रेशर के मरीज कच्चा लहसुन खाकर इसे कंट्रोल कर सकते हैं।

अल्जाइमर और डिमेंशिया
फ्री-रेडिकल्स के कारण होने वाला ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस आपके दिमाग की उम्र बढ़ा देता है। जिसके कारण अल्जाइमर और डिमेंशिया जैसी दिमागी बीमारी हो सकती है। लेकिन, कच्चे लहसुन में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस का नुकसान कम कर देते हैं।

थकावट-कमजोरी
एक्सपर्ट कच्चे लहसुन का सेवन (benefits of consuming raw garlic) एथलीट और स्पोर्ट्स प्लेयर के लिए काफी अच्छा मानते हैं। क्योंकि कई रिसर्च में इसे एथलीट परफॉर्मेंस को बढ़ाने वाला पाया गया है। लहसुन खाने से आपको रोजाना होने वाली थकावट व कमजोरी से छुटकारा मिलता है।

हड्डियां रहती है मोटी
उम्र बढ़ने के साथ हड्डियों की मोटाई कम होने लगती हैं और वे कमजोर हो जाती हैं। आयुर्वेद में कच्चे लहसुन का सेवन हड्डियों की मजबूती के लिए फायदेमंद माना गया है। लहसुन खाने से महिलाओं में एस्ट्रोजन हॉर्मोन में इजाफा होता है, जो हड्डियों की मजबूती में महत्वपूर्ण पाया गया है।

डिटॉक्स करने वाला फूड
लेड जैसे मेटल शारीरिक अंगों के लिए खतरनाक होते हैं। यह शरीर में जहर बना देते हैं, जिसे टॉक्सिन्नस कहा जाता है। लेकिन कच्चे लहसुन में मौजूद सल्फर कंपाउंड इन मेटल से होने वाले डैमेज को खत्म करता है और शरीर को डिटॉक्स करता है।

जोड़ों या मांसपेशियों में दर्द
अगर आपको बार-बार जोड़ों में दर्द या मसल्स में दर्द होता है, तो यह शरीर में बढ़ रही इंफ्लामेशन का लक्षण होता है। लेकिन कच्चे लहसुन में एंटी-इंफ्लामेटरी गुण होते हैं, जो सूजन को खत्म करके दर्द से राहत देते हैं। वहीं, जाड़े में ठंड को दूर रखने के लिए भी लहसुन फायदेमंद होता है।